Search
Close this search box.
  • contact for advertisment
  • IAS Coaching

मरे हुए सांप को कांच की बोतल में लेकर जिला अस्पताल पहुंचा सर्पदंश पीड़ित युवक, इलाज के बाद हालत में सुधार।

स्टार न्यूज एमपी डेस्क/ प्रदीप चौधरी/ भिंड

भिंड जिला अस्पताल में अजीबोगरीब सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां मुकेश वर्मा नामक एक युवक ने
अपने आप को सर्पदँस से पीड़ित बताते हुए एक मृत सांप को बंद कांच की बोतल मैं लेकर जिला अस्पताल पहुंच अपने आप को सर्वप्रथम से पीड़ित बताते हुए डॉक्टर के सामने टेबल पर बोतल में बंद अमृत सांप रख दिया, मामले की गंभीरता को देखते हुए युवक को आईसीयू में भर्ती कराया गया जहां इलाज के बाद अब उसकी हालत में सुधार है, जानकारी के अनुसार सर्प दंश से पीड़ित युवक फूप थाना इलाके के रानी विरगंवा गांव का रहने वाला मुकेश वर्मा है, मुकेश वर्मा मजदूरी का कार्य करता है, बीते दिनों से मुकेश वर्मा के घर पर मकान निर्माण का कार्य चल रहा था जिसके लिए वह घर के बाहर से अंदर के लिए ईटों की ढुलाई कर रहा था, तभी अचानक उसके हाथ में कुछ चुभने से दर्द हुआ जव उसने पलटकर देखा तो ईंटों के ऊपर सर्प रेंग रहा था जिसको उठाकर उसने फेंक दिया, तब तक मुकेश की मां वहां पर पहुंच गई और उसने सर्प को जिंदा देखा तो लकड़ी से उसको मार कर बोतल में डाल दिया साथ ही अर्ध मूर्छित अवस्था में बेटे को लेकर जिला अस्पताल पहुंची, इलाज के लिए बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया,जहां अब मुकेश की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है, इस पूरे मामले में सबसे बड़ी चौंकाने वाली बात जो सामने आ रही है वह यह है कि बीते साल सितंबर महीने में भी मुकेश वर्मा की पत्नी बेटे और बेटी को सर्प ने काट लिया था, जिसके चलते पत्नी और बेटी की तो इलाज के दौरान मौत हो गई थी और बेटे को डॉक्टर ने इलाज के बाद बचा लिया था, सर्पदंश से पीड़ित मुकेश के हाथ पर उसके नाम के साथ सर्प भी गुदा हुआ है उसके बारे में पर पूछे जाने पर उसने बताया कि वह पहले सांपों को मार दिया करता था, जिसके चलते उसे सपने में भी सर्प दिखाई देते थे, हाथ में सर्प गुदवाने के बाद सपनों में आने वाले सांपों से तो निजात मिल गई, लेकिन हकीकत में वह और उसका परिवार सांपों के कहर से पीड़ित है,ओर हर समय सांपों डर के साए में जीने को मजबूर है।

Star News MP
Author: Star News MP

Leave a Comment





यह भी पढ़ें