Search
Close this search box.
  • contact for advertisment
  • IAS Coaching

भिंड के जिला अस्पताल में एक बार फिर मानवता हुई शर्मशार, प्रसव के लिए आई महिला को नर्सिंग स्टाफ ने निकाला बाहर, खुले में हुई महिला की डिलीवरी।


भिंड जिला अस्पताल की मानवता को शर्मसार करने वाली बड़ी लापरवाही सामने आई है, जिला चिकित्सालय में डिलीवरी के लिए आई महिला के परिजनों द्वारा नर्सिंग स्टाफ द्वारा मांगे गई पांच हजार रुपये की राशि देने में असमर्थता जाहिर करने पर नरसिंग स्टाफ द्वारा महिला को जिला अस्पताल से बाहर निकाल दिया गया, जहां प्रसव पीड़ा से पीड़ित महिला ने अस्पताल गेट के बाहरी खुले में बच्चे को जन्म दिया, महिला के परिजनों द्वारा की गई शिकायत के बाद भिंड कलेक्टर ने नर्सिंग स्टाफ की सीसीटीवी के आधार पर शिनाख्त करवाने के बाद कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया है, जानकारी के अनुसार पिडोरा गांव के रहने बंटी परिहार की पत्नी राखी परिवार को प्रसब पीड़ा के जिला अस्पताल लाया गया था जहां पर पहले तो नर्सिंग स्टाफ द्वारा सीजर डिलीवरी की बात कही गई, जिस पर परिजनों ने नर्सिंग स्टाफ को बताया था कि महिला की पहले भी दो बार नॉर्मल डिलीवरी हो चुकी है इसके बाद नर्सिंग स्टाफ द्वारा महिला के परिजनों से डिलेवरी के एवज में पांच हजार रुपए की मांग की गई, परिजनों द्वारा असमर्थता जाहिर करने पर महिला को रेफर के नाम पर अस्पताल से बाहर कर दिया गया अस्पताल से बाहर निकलते ही महिला ने गेट पर स्वस्थ बच्चे को जन्म दे दिया, लेकिन महिला के परिजनों द्वारा कलेक्टर से मामले की शिकायत की गई जिस पर पैसे मांगने वाले नर्सिंग स्टाफ की सीसीटीवी की मदद से शिनाख्त करवा कर कड़ी कार्रवाई का पीड़ित परिवार को कलेक्टर भिण्ड संजीव श्रीवास्तव ने आश्वासन दिया है।

Star News MP
Author: Star News MP

Leave a Comment





यह भी पढ़ें