Search
Close this search box.
  • contact for advertisment
  • IAS Coaching

भिड़ में 28 अगस्त से पटवारी कलम बंद हड़ताल पर,कामकाज होगा प्रभावित।


मध्य प्रदेश में चुनाव आते ही अब सरकारी कर्मचारी संगठनों ने अपनी माँगो को लेकर सरकार पर दबाव बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है, इसी क्रम में पटवारी संघ भी अब अपना मानदेय बढ़वाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार के ख़िलाफ़ वादा खिलाफी का आरोप लगाकर राज्यव्यापी धरने पर बैठ गए हैं, ओर अनिश्चितकालीन हड़ताल कर दी है,दरअसल पूरे मध्य प्रदेश के साथ ही भिंड जिले के सभी नौ तहसीलों में हलका पटवारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं,

मेहगाँव तहसील कार्यालय में धरने पर बैठे पटवारियों का आरोप है कि सरकार ने उनका वेतनमान बीते 25 सालों से नहीं बढ़ाया है सन् 1998 में मध्य प्रदेश सरकार ने इन पटवारियों का मानदेय इक्कीस सौ रुपया किया था,और उसके बाद 2007 में जाकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मानदेय अट्ठाईस सौ रुपया प्रतिमाह किए जाने की घोषणा की थी,लेकिन उसके बाद कई बार पटवारियों ने अपनी माँग रखी लेकिन हर बार मुख्यमंत्री आश्वासन देकर बात टालते राहे हैं यदि उनका मानदेय बढ़ता है तो करीब उनकी तनख़्वाह में 7-8 हज़ार रुपये का इज़ाफ़ा हो जाएगा जिससे इस बढ़ती महँगाई मैं उन्हें काफ़ी राहत मिलेगी लेकिन सरकार की अनदेखी के चलते उन्हें लगातार इसका नुक़सान सहना पड़ रहा है,इस वादा खिलाफी से अब पटवारी संघ नाराज़ है और काम बंद कर हड़ताल पर चला गया है,उनका कहना है कि अब सरकार ने उनकी माँगें अभी भी नहीं मानी तो जल्द ही इस बारे में कोई बड़ा क़दम ज़रूर उठाएंगे।

Star News MP
Author: Star News MP

Leave a Comment





यह भी पढ़ें